सरस जनवाद

अपहृत नाबालिगों को पुलिस टीम ने मुक्त कराया, सरकार ने दिया 1 लाख का इनाम

Share

अल्मोड़ा :- कपकोट बागेश्वर से फिरौती के लिए अपहृत नाबालिग दो बालकों को अल्मोड़ा एवं बागेश्वर एसओजी टीम ने की कुछ ही घण्टों में सकुशल मुक्त करा लिया है। इसके बाद प्रदेश सरकार ने पुलिस टीम को 1 लाख रुपये का पुरस्कार देने की घोषणा की है।

पहाड़ की शान्त वादियों में घटित सनसनीखेज वारदात को खुद सीएम पुष्कर सिंह धामी ने गंभीरता से संज्ञान लिया था। इसके बाद डीजीपी के दिशा निर्देशों पर डीआईजी कुमांऊ ने टीम का गठन कर पुलिस को हाई अलर्ट पर रखा था।

जानकारी के अनुसार वादी हर सिंह पुत्र मंगल सिंह निवासी ग्राम गांसी थाना कपकोट जनपद बागेश्वर द्वारा थाना कपकोट में तहरीर देकर अवगत कराया गया कि उनके नाबालिग पुत्र और उसके दोस्त जो कि कपकोट अस्पताल दवा लेने गये थे, उनका अज्ञात बदमाशों द्वारा अपहरण कर लिया गया है और बालकों को छोड़ने के एवज में छह लाख रुपये की फिरौती की मांगी जा रही है। उक्त घटना के सम्बन्ध में थाना कपकोट जनपद बागेश्वर में मु0अ0सं0 81/2021 धारा 364 (A) भादवि बनाम् अज्ञात पंजीकृत किया गया।

चूँकि घटना के दिन मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी नैनीताल दौरे पर थे। उक्त सनसनीखेज घटना की जानकारी प्राप्त होते ही पुलिस बल हरकत में आ गया। मुख्यमंत्री द्वारा पूरी कुमाऊँ पुलिस को हाई अलर्ट करते हुए पुलिस उपमहानिरीक्षक कुमाऊं परिक्षेत्र डॉ0 श्री नीलेश आनंद भरणे को नाबालिग बच्चों की किडनैपिंग एवं फिरौती के मामले में अपहरणकर्ताओं की शीघ्र गिरफ्तारी कर अपहृत बच्चों की सकुशल बरामदगी करने के कड़े निर्देश दिए गए।

इसके बाद हरकत में आई एसओजी अल्मोडा एंव बागेश्वर की टीम द्वारा मुखबिर की सूचना के आधार पर एक वाहन संख्या- यू0के0- 06 एजे-0040 काले रंग की टी0यू0वी0-300 को बेस तिराहा अल्मोड़ा के पास रोकने का प्रयास किया गया तो चालक द्वारा वाहन को तेजी से हल्द्वानी की ओर दौडा दिया गया तब एसओजी टीम द्वारा वाहन का पीछा कर उक्त वाहन को तमन्ना फास्ट फूड निकट छड़ा खैरना के पास पकड़कर वाहन में दुबकाकर रखे गये अपहृत बालकों को बरामद कर अभियुक्तगण विशाल आगरी, विकास पाण्डे, नीरज टाकुली और कमल कुमार आर्या को मय घटना में प्रयुक्त वाहन संख्या- यू0के0-06 ए0जे0- 0040 टी0यू0वी0-300 के साथ गिरफ्तार किया गया। इनके कब्जे से फिरौती हेतु ले चुकी धनराशि 25000 रुपये में से 22000 रुपये नकद बरामद किये गये। अपहरणकर्ताओं द्वारा बालकों के परिजनों से अलग अलग खातों में 37000 रुपये की धनराशि गूगल पे के माध्यम से डलवाई गयी थी, जिनके खातों को सीज कर उनकी जांच की जा रही है। अभियुक्तों के पास एप्पल आई फोन भी बरामद हुआ है।

मामले में शीघ्र खुलासा किए जाने पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा पुलिस टीम के उत्साहवर्धन हेतु 1 लाख रुपये इनाम देने की घोषणा की गई है।