सरस जनवाद

शाहबेरी में अवैध रूप से 30 फ्लैट बेचने वाली महिला बिल्डर गिरफ्तार

Share

ग्रेटर नोएडा। शाहबेरी में बिल्डरों के खिलाफ कार्रवाई लगातार जारी है। हाल ही में एक नया मामला सामने आया है जिसमें बिसरख थाना पुलिस ने महिला बिल्डर मन्नू टंडन को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि मन्नू टंडन ने शाहबेरी में 30 फ्लैट अवैध रूप से बनाकर बेचे हैं।

आपको बता दें कि अब तक शाहबेरी मामले में 84 एफआइआर दर्ज हो चुकी हैं। दरअसल 17 जुलाई 2018 की रात दो अवैध इमारतें गिरने से 9 लोगों की मौत हो जाने के बाद से ही प्रदेश सरकार ने अवैध रूप से फ्लैट का निर्माण कर रहे बिल्डरों पर कड़ी कार्रवाई के आदेश दिए थे। 11 सितंबर को बिसरख कोतवाली क्षेत्र स्थित शाहबेरी में अवैध निर्माण करने वाले बिल्डर शमीम आलम निवासी शाहबेरी को पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

जबसे बिल्डरों को प्राधिकरण का नोटिस मिला है तभी से उनमें हड़कंप मचा हुआ है। बेशक नोटिस के बारे में अभी तक फ्लैट खरीदारों को जानकारी नहीं दी है परन्तु फ्लैट खरीदारों को नोटिस की भनक लग चुकी है। इससे उन्हें सिर की छत छिनने का डर सता रहा है।

अभी हाल में ही शाहबेरी में बनी अवैध इमारतों को ध्वस्त करने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने नोटिस भेजा था। उत्तर प्रदेश औद्योगिक विकास अधिनियम की धारा दस के तहत भेजे गए नोटिस में बिल्डरों को एक सप्ताह में अवैध निर्माण को ध्वस्त करने के आदेश दिए हैं। ऐसा न किये जाने पर प्राधिकरण खुद यह कार्रवाई करेगा और इसका खर्च बिल्डर से वसूल करेगा।