सरस जनवाद

दुखद : महान बल्लेबाज माधव आप्टे का 86 साल की उम्र में निधन, दिल का दौरा पड़ने से हुई मौत

Share

मुंबई । भारतीय क्रिकेटर Madhav Apte का सोमवार सुबह दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया. वह 86 वर्ष के थे.  पूर्व सलामी बल्लेबाज माधव आप्टे को ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां सुबह छह बजकर नौ मिनट पर उन्होंने अंतिम सांस ली। उनके बेटे वामन आप्टे ने पीटीआई को यह जानकारी दी। आप्टे ने अपने छोटे से टेस्ट करियर में भारत की ओर से सात मैच खेले, जिसमें उन्होंने कुल 542 रन बनाए थे। उनके नाम पर 1 शतक और तीन अर्धशतक दर्ज हैं। उनके निधन पर कई दिग्गज क्रिकेटरों ने दुख व्यक्त करते हुए सोशल मीडिया पर उनको श्रद्धांजलि दी है।

आप्टे ने अपने टेस्ट करियर के 7 मैचों में 49.27 की औसत से कुल 542 रन बनाए थे। उनका उच्चतम स्कोर 163* रन था, जो उन्होंने वेस्ट इंडीज के खिलाफ पोर्ट ऑफ स्पेन में बनाए थे। उन्होंने अपना टेस्ट डेब्यू नवंबर 1952 में मुंबई में पाकिस्तान के खिलाफ खेलते हुए किया था। जिसमें उन्होंने 30 और 10* रन की पारी खेली थी।  माधव आप्टे किसी एक टेस्ट सीरीज में 400 से ज्यादा रन बनाने वाले भारत के पहले ओपनर थे। उन्होंने 1953 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ हुई सीरीज में 460 रन बनाकर ये कारनामा किया था। वे मुंबई की टीम से घरेलू क्रिकेट खेलते थे और इस टीम के कप्तान भी रहे थे। 

आप्टे के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए पूर्व भारतीय क्रिकेटर विनोद कांबली ने लिखा है कि , ‘माधव आप्टे सर के निधन के बारे में सुना, मैंने उन्हें बचपन से देखा था और उनसे सलाह लेता रहता था। वे हमेशा मेरा उत्साह बढ़ाते थे और अच्छा करने के लिए प्रेरित करते थे। मुझे और मेरे पापा दोनों को ही उनके साथ क्रिकेट खेलने का सौभाग्य मिला। आपकी आत्मा को शांति मिले सर।’