सरस जनवाद

सरकार ने नहीं बनाया तो ग्रामीणों ने श्रमदान से बना डाला खेल मैदान

Share

गोपेश्वर :- चमोली जिले के घाट विकास खंड के दूरस्थ गांव कनोल के ग्रामीण लंबे समय से खेल मैदान की मांग कर रहे थे। सरकार और प्रशासन की उदासीनता से आहत ग्रामीणों ने श्रमदान और स्वयं के संसाधनों से खेल मैदान का निर्माण कर लिया है।

कनोल गांव में वर्ष 2013 की आपदा के दौरान गांव का जूनियर हाईस्कूल भूस्खलन की चपेट में आ गया था। इस दौरान स्कूल का एकमात्र खेल मैदान भी ध्वस्त हो गया था। तब से युवा और ग्रामीण खेल मैदान की मांग कर रहे थे। युवाओं और ग्रामीणों ने गांव के नानापाणी तोक में सिविल भूमि पर श्रमदान से खेल मैदान तैयार कर प्रशासन और सरकार को आईना दिखाने का कार्य किया है।

युवक मंगल दल के अध्यक्ष प्रदीप सिंह, ग्राम प्रधान कनोल सरस्वती देवी और महेंद्र सिंह ने बताया कि युवक मंगल दल के माध्यम से युवा कल्याण विभाग से खेल मैदान के निर्माण की मांग की गई थी।

युवा कल्याण अधिकारी आनंद सिंह नयाल का कहना है कि चमोली के ग्रामीण क्षेत्रों में खेल मैदान निर्माण के विभाग को मिले प्रस्ताव तैयार कर नियमानुसार शासन को स्वीकृति के लिये भेजे गये हैं। जिन प्रस्तावों में दस्तावेजों की कमी है उन्हें पूर्ण किया जा रहा है। शासन से बजट के आवंटन के बाद प्राथमिकता के आधार पर खेल मैदानों का निर्माण करवाया जाएगा।