सरस जनवाद

नैनीताल की ठंडी सड़क पर बढ़ा भूस्खलन, DSB छात्रावास के लिए खतरा

Share

नैनीताल :- नैनीताल की ठंडी सड़क पर शुक्रवार रात्रि के बाद से लगातार भूस्खलन हो रहा है और भूस्खलन अभी भी जारी है। इससे पास में ही स्थित डीएसबी परिसर के छात्रावास के लिए खतरा बढ़ गया है।

बताया गया कि पहाड़ी से आए मलबे को हटाने के लिए साेमवार को प्रयास किया गया लेकिन लगातार मलबा आने और कुछ बड़े बोल्डरों के गिरने की आशंका के चलते मलबा हटाने का कार्य रोक दिया गया है। यहां अभी भी भूस्खलन होने की आशंका बनी हुई है। इसके बावजूद लोग अभी भी मलबे के ऊपर से गुजरने से बाज नहीं आ रहे है। ऐसे में दुर्घटना की आशंका बनी हुई है।

इस संबंध में नगरपालिका के अधिशासी अधिकारी अशोक कुमार वर्मा ने बताया कि पहाड़ी से काफी मात्रा में मलबा आ रहा है। ऐहतियात के तौर पर ठंडी सड़क के तल्लीताल के गेट को बंद कर दिया गया है और गेट पर भी ताला डाल दिया है। इधर, मल्लीताल की ओर से शिव मंदिर के पास बैरीकेडिंग लगा दी गई है। मौके पर पुलिस तैनात कर लोगों के आवागमन पर रोक लगाने को कहा गया है।

उल्लेखनीय है कि 1998 में इसी स्थान के पास डीएसबी परिसर के गेट के पास से बड़े भूस्खलन की घटना हुई थी। लिहाजा लगातार यहां एक ही स्थान पर लगातार भूस्खलन होने से लोग उस घटना को याद कर आशंकित भी होने लगे हैं। गौरतलब है कि इससे पहले ठंडी सड़क पर 21 जुलाई को भी इसी स्थान के पास मलबा आया था, साथ ही इसी दिन ठंडी सड़क से लगे पालिका मार्केट की ओर राजभवन रोड पर सड़क धंसने से पत्थर आए थे। जबकि तीन जुलाई को ठंडी सड़क जाने वाले मार्ग पर स्थित वाईटीडीओ नाम के प्रतिष्ठान में बोल्डर गिर गया था।