सरस जनवाद

देश आज मजबूत हाथों में, फौज का मनोबल कई गुना बढ़ा : जेपी नड्डा

Share

देहरादून :- भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि आज देश मजबूत हाथोंं में है। अब सैनिकों को पड़ोसी की गोलाबरी का जवाब देने के लिए केंद्र से अनुमति लेने की जरूरत नहीं पड़ती। अब दुश्मन को जवाब देने के लिए फौज स्वंत्रत है। फौज का मनोबल कई गुना बढ़ा है।

उत्तराखंड के दो दिवसीय दौरे के आखिरी दिन शनिवार को रायवाला में पूर्व सैनिकों से संवाद और सम्मान समारोह में भाजपा अध्यक्ष नड्डा ने कहा कि सैनिक और पूर्व सैनिक राष्ट्र की सुरक्षा के मजबूत और सजग प्रहरी हैं। उन्होंने कहा मोदी सरकार सैनिकों और पूर्व सैनिकों के हित में कई योजनाओं का संचालन कर रही है। नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश सुरक्षित है। पहले जब सीमा पार से गोलियां चलती थीं तो दिल्ली में बैठी सरकार से सेना को पूछना पड़ता था की पड़ोसी मुल्क हम पर गोलीबारी कर रहा है। हम क्या करें, तो दिल्ली में बैठी सरकार का संदेश जाता था की अभी रुको। अभी इंतजार करो। मगर आज मोदी सरकार ने फ़ौज को आदेश दिए हैं कि सीमा पार से एक गोली चले तो तुम दो गोली चलाओ। सीधा जवाब दो दुश्मनों को।

उन्होंने कहा आज फौज को किसी आदेश की आवश्यकता नहीं है। सीमा पर मोदी सरकार ने 73 ऑल वेदर रोड स्वीकृत की हैं। इनकी लंबाई 3812 किलोमीटर है। अभी तक 3300 किलोमीटर सड़कें तैयार हो चुकी हैं।नड्डा ने कहा कि मेक इन इंडिया के तहत आज हम बुलेट प्रूफ जैकेट खुद बना रहे है। रक्षा सौदों में दलाली पूरी तरह से मोदी सरकार ने खत्म की है। उन्होंने कहा 1 रैंक 1 पेंशन की मांग 1972 से थी और तब से देश में कई सरकारे आईं और गईं, लेकिन सिर्फ मोदी सरकार ने इस ओर ध्यान दिया, क्योंकि वे एक सैनिक का दर्द समझते हैं। कारगिल युद्ध के दौरान हुए शहीदों के पार्थिव शरीर को घर तक सम्मान के साथ लाने का काम भी अटल सरकार ने किया।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने स्वागत भाषण में कहा कि जब देश की आन-बान-शान की बात आती है तो सबसे आगे उत्तराखंड राज्य ही होता है। उन्होंने कहा आज देश की सेना का पराक्रम पूरी दुनिया देख रही है। भारत के वीर सैनिकों ने हर बार दुश्मन देश के सैनिकों का डटकर मुकाबला किया है और उन्हें उनके ही शब्दों में जवाब दिया है। पिछले वर्षों में भारत ने पाकिस्तान के ऊपर सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक करके उसे सबक सिखाने का काम किया है जो भारतीय सेना की बहादुरी का सुबूत है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि वीर सैनिकों की शहादत और पराक्रम की वजह से देश आज अनेक विरोधी ताकतों से सुरक्षित है। ऐसे में हमें अपने देश की सेना पर गर्व है। रक्षा राज्यमंत्री अजय भट्ट ने कहा जैसा अनुसाशन फौज में होता है वैसा ही भाजपा में होता है। उन्होंने कहा आज हमारा देश दुनिया को 1000 से ज्यादा उपकरण निर्यात करता है। चाहे कारगिल युद्ध हो, सर्जिकल स्ट्राइक या सीमा पार से हो रहे लगातार आतंकी हमले, भारत के जांबाज सैनिकों ने हर मौके पर देश की सुरक्षा और इसकी अस्मिता के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर किया है।

कार्यक्रम में जसवंत सिंह रावत मरणोपरांत महावीर चक्र, हवलदार गजेंद्र सिंह रावत मरणोपरांत अशोक चक्र, हवलदार बहादूर सिंह मरणोपरांत अशोक चक्र, राइफल मैन संजय शाही कीर्ति चक्र, राइफल मैन चंद्र किशोर सेना मैडल, सूबेदार प्रदीप थापा सेना मैडल, लांस नायक विनोद सिंह सेना मेडल और नायक सूबेदार रघुवीर सिंह सेना मेडल का सम्मान किया गया। परिजनों का शाल ओढ़ाकर और स्मृति चिह्न भेंट कर सम्मान किया गया।

कार्यक्रम में भाजपा प्रदेश प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम, सह प्रभारी रेखा वर्मा, प्रदेश महामंत्री संग़ठन अजेय कुमार, राष्ट्रीय मीडिया मुख्य प्रवक्ता अनिल बलूनी और पूर्व सैनिक और परिजन उपस्थित थे कार्यक्रम का संचालन प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार ने किया।