सरस जनवाद

समुद्र में सैन्यभ्यास के दौरान पलटी नाव, BSF ने सेना के 6 जवानों को बचाया सुरक्षित

Share

गुजरात पाकिस्तान सीमा के पास भुज के कोरी क्रीक में सेना का नियमित अभ्यास चलता रहता है. सेना के 6 जवान जब यहां अभ्यास कर रहे थे, उसी वक्त अचानक समुद्र में एक बड़ी लहर उठी और उनकी नाव पलट गई. हालांकि यहीं पर बीएसएफ की पेट्रोलिंग पार्टी गश्त लगा रही थी, जिन्होंने सेना के इन जवानों को डूबते हुए देखा तो तुरंत ही उनके पास पहुंची.

जिसमें से एक जवान के पेट में काफी पानी चला गया था. उसे बीएसएफ की स्पीड बोट के जरिए लकीनाला तक पहुंचाया गया. जहां से बीएसएफ ने तुरंत ही एंबुलेंस के जरिए सेना के जवान को अस्पताल पहुंचाया और उसकी जान बच गयी.

तो वहीं इस बार 15 अगस्त को लेकर बीएसएफ ने सीमा पर सुरक्षा बढ़ा दी है. कश्मीर में हो रहे ड्रोन हमले के बाद गुजरात के भुज बॉर्डर और बनासकांठा बॉर्डर दोनों पर ही सुरक्षा को बढ़ा दिया गया है. साथ ही समुद्र में गश्त भी शुरू कर दी गई है. ताकि पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों को अंजाम ना दे पाए.

ड्रोन गतिविधि पर भारत ने जताई आपत्ति

जम्मू-कश्मीर की सुचेतगढ़ सीमा पर बीएसएफ (BSF) और पाक रेंजर सेक्टर के बीच कमांडर स्तर की शनिवार को बैठक हुई. बैठक के दौरान, दोनों सीमा सुरक्षा बलों के कमांडरों ने पाक ड्रोन गतिविधियों, सीमा पार से पाकिस्तान द्वारा आतंकवादी गतिविधियों, पाकिस्तान द्वारा सुरंगों की खुदाई और सीमा प्रबंधन से संबंधित अन्य मुद्दों पर चर्चा की.

कमांडर लेवल की बैठक में फैसला लिया गया कि जब भी जरूरत होगी, तब ऑपरेशन मामलों को हल करने के लिए फील्ड कमांडरों के बीच तत्काल बातचीत को फिर से एक्टिव किया जाएगा. बैठक सौहार्दपूर्ण, सकारात्मक और रचनात्मक माहौल में हुई और दोनों पक्ष पहले डीजी स्तर की वार्ता में लिए गए फैसलों को जल्द लागू करने के लिए सहमत हुए. साथ ही अंतरराष्ट्रीय सीमा पर शांति और सद्भाव बनाए रखने के लिए प्रतिबद्धता दिखाई.