सरस जनवाद

गरीब परिवार की बेटी का हुआ टीम इंडिया में चयन

Share

बिजनौर। कहते है कि मन मे अगर कुछ कर गुजरने की चाह हो तो बड़े से बड़ा काम भी आसान हो जाता है ऐसे ही कुछ कर दिखाया बिजनौर की मेघना सिंह ने । भारतीय किर्केट टीम में चयन होने के बाद गरीब परिवार की बिटिया के परिवार में खुशियों का माहौल है साथ ही सगे सम्बन्धीयो का घर मे मुबारक बाद देने वालो का तांता लगा हुआ है।

बिजनौर के कोतवाली देहात गांव की रहने वाली मेघना सिंह  साधारण परिवार में जन्मी है।मेघना सिंह ने महज़ आठ साल की उम्र से ही घर के बाहर बने मैदान में बच्चो के साथ क्रिकेट खेलना शुरू किया।कड़ी मेहनत और लगन की वजह से मेघना रोज़ सुबह 4 बजे घर से 24 किलोमीटर दूर बिजनौर के नेहरू स्टेडियम के मैदान में घण्टो घण्टो पसीना बहाती थी।मेघना की मेहनत ऐसी रंग लाई की मेघना को भारतीय महिला क्रिकेट में चयन हो गया जिसे लेकर बिजनौर ही नही बल्कि देश मे मेघना ने नाम रोशन किया है।

फिलहाल मेघना सिंह साल 2014 से मुरादाबाद रेलवे विभाग में बुकिंग क्लर्क के पद पर तैनात है। मेघना अपने परिवार  मे सबसे बड़ी है। मेघना के परिवार में माता पिता व दादी कुल चार बहिने व एक भाई है। मेघना के भाई बहिन पढ़ाई कर रहे है भारतीय महिला क्रिकेट टीम में सलेक्शन के बाद परिवार में व आस पड़ोसी व रिश्तेदारों में ख़ुशी की लहर दौड़ पड़ी है। मेघना के परिवार वालो को मुबारक बाद देने का सिलसिला जारी है एक दूसरे को मिठाई खिलाकर आपस मे खुशिया बटोरी जा रही है मेघना ऑस्ट्रेलिया में बहुत जल्द खेलेगी। मेघना के भारतीय टीम में चयन होने से कस्बे में हर्ष का माहौल है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक टेस्ट और सीमित ओवरों की श्रृंखला के लिए महिला टीम का चयन किया है जिसमें तेज गेंदबाज मेघना सिंह को टीम में स्थान दिया गया है। कोतवाली देहात निवासी मेघना सिंह तेज गेंदबाजी के साथ साथ अच्छी बल्लेबाजी भी करती हैं। मेघना सिंह को पहली बार भारतीय टीम में चुना गया है। भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध तीन एक दिवसीय मैच 1 दिन रात्रि टेस्ट और तीन टी-20 मुकाबले खेलेगी। मेघना सिंह भारतीय क्रिकेट टीम के साथ 29 अगस्त को ऑस्ट्रेलिया रवाना होगी।। फिलहाल मेघना सिंह बैंगलोर में रहकर  प्रैक्टिस कर रही है। विजय वीर सिंह की पांच संतानों में मेघना सबदे बड़ी पुत्री है । मेघना की तीन बहने और एक भाई है। मेघना के पिता विजयवीर सिंह सिक्योरिटी गार्ड है और माता आशा कार्यकत्री है दादा रिटायर पुलिस कर्मी है।

मेघना सिंह ने क्रिकेट में अपना अलग स्थान बनाया है। इससे पहले मेघना सिंह इंडिया ए के लिए चुनी गई थी ।गत वर्ष दुबई में आयोजित टी20 चैंपियंस ट्रॉफी में भी मेघना ने अपनी खेल प्रतिभा से सभी को आकर्षित किया था। मार्च में राजकोट में आयोजित सीनियर वुमन चैलेंजर ट्रॉफी में मेघना सिंह ने रेलवे की ओर से प्रतिभाग किया था। रेलवे की कप्तान मिताली राज के नेतृत्व में रेलवे ने राष्ट्रीय ट्राफी जीती थी। मेघना सिंह मीडियम पेसर हैं, साथ ही अच्छी बल्लेबाज भी है। मेघना के दादा प्रेमपाल सिंह तथा दादी कोतवाली देहात में रहते है। मेघना वर्तमान में रेलवे की ओर से खेल रही है। मेघना के भारतीय टीम में चयन होने की सूचना मिलते ही कस्बे में हर्ष का माहौल रहा।