सरस जनवाद

दिल्ली में बारिश का दौर जारी, इस बीच कई स्थानों पर जलजमाव

Share

Delhi Monsoon Update: देश की राजधानी दिल्ली में बारिश का दौर जारी है. इस बीच कई स्थानों पर जलजमाव भी हो गया है. लोक निर्माण विभाग के अनुसार यमुना बाजार, खानपुर, रोहतक रोड, लोधी रोड, आजादपुर अंडरपास, जखीरा अंडरपास, शक्ति नगर अंडरपास, किराड़ी, सागरपुर में भारी जलजमाव हो गया. मंगोलपुरी में बारिश के बाद सड़क का एक हिस्सा धंस गया, जिससे इलाके में यातायात बाधित हो गया.

इस बीच, यमुना में जल स्तर फिर से बढ़ गया है. रविवार को यमुना के डूब वाले क्षेत्रों से पिछले कुछ दिनों में 100 से अधिक परिवारों को ऊंचाई वाले इलाकों में पहुंचाया गया है. नदी के तटीय इलाकों में भारी बारिश के कारण शुक्रवार को जलस्तर खतरे के निशान 205.33 मीटर को पार कर गया था. हालांकि शनिवार शाम को जलस्तर घटकर 204.89 मीटर हो गया था.

दिल्ली में लू और बारिश ने तोड़े रिकॉर्ड
दिल्ली के लिए जुलाई का महीना मौसम की दृष्टि से बहुत ही अजीबोगरीब रहा क्योंकि इस महीने में पांच दिन लू चली, जो 2012 के बाद से अधिकतम है. इसके अलावा मानसून भी दो सप्ताह की देरी से आया, जो असामान्य है और लगभग दो दशकों के रिकॉर्ड को तोड़ने वाली मूसलाधार बारिश हुई.

मौसम विभाग के आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली में 13 जुलाई को मानसून ने दस्तक दिया, जो 19 सालों में सबसे अधिक विलंब से पहुंचने वाला मानसून बन गया. इतनी देर से मानसून के पहुंचने के बावजूद राजधानी में इस महीने में 16 बरसात के दिन दर्ज किए गए, जो पिछले चार सालों में सबसे अधिक है. मानसून के शहर में पहुंचने से पहले तीन दिन बारिश हुई थी.

आईएमडी के अनुसार, 2013 में दिल्ली में 340.5 मिमी बारिश हुई थी. जुलाई 2003 में अब तक का रिकॉर्ड 632.2 मिमी बारिश हुई थी. कुल मिलाकर, दिल्ली में एक जून से अब तक 570.1 मिमी बारिश हुई है, जो मानसून की शुरुआत के समय के सामान्य 281.9 मिमी के मुकाबले 102 फीसदी अधिक है. दिल्ली में जुलाई में 16 बरसात के दिनों में, तीन मौकों पर भारी बारिश हुई. 18-19 जुलाई को 69.6 मिमी, 26-27 जुलाई को 100 मिमी और 29-30 जुलाई को 72 मिमी बारिश हुई.