सरस जनवाद

गोरखपुर में योगी आदित्यनाथ ने किया ‘भागवत समापन समारोह’ में साधुओं को संबोधित, कहा- जीवन में हमेशा अच्छा करने की प्रेरणा देती है भागवत

Share

गोरखपुर। गोरखपुर के युगपुरुष माने जाने वाले ब्रह्मलीन महंत दिग्विजय नाथ की 50 वी एवं राष्ट्रसंत ब्रह्मलीन महंत अवैद्यनाथ महाराज की पांचवी पुण्यतिथि के अवसर पर श्रद्धांजलि सभा समारोह का आयोजन किया गया जिसके समापन दिवस पर हजारों साधु-संतों ने भाग लिया।

स्मृति भवन सभागार में पुण्यतिथि समारोह आयोजित हुआ जिसके अंतर्गत चल रहे श्रीमद्भागवत महापुराण कथा ज्ञान यज्ञ के समापन समारोह को योगी आदित्यनाथ जी ने संबोधित किया। उन्होंने श्रीमद्भागवत कथा की उपयोगिता पर प्रकाश डालते हुए कहा कि ऐसी कथाएं जीवन को आध्यात्मिक ऊर्जा प्रदान करती हैं जिससे हम अच्छा करने के लिए सदैव प्रेरित होते हैं। इस अवसर पर हनुमान मंगलमय परिवार ट्रस्ट के संस्थापक बीके शर्मा हनुमान ने भी श्रद्धांजलि सभा में अपने विचार प्रकट कर श्रद्धांजलि दी

इससे पहले मुख्यमंत्री एवं गोरक्षपीठ के महंत श्री योगी आदित्यनाथ जी ने सभी संतों का सम्मान एवं स्वागत किया। समारोह में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, भारत सरकार की पूर्व केंद्रीय मंत्री व पूर्व मुख्यमंत्री साध्वी उमा भारती ने भी कार्यक्रम की गरिमा को बढ़ाया। आनंद तब और बढ़ गया तब प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने अपने साथ भोजन प्रसाद कराया। तत्पश्चात माननीय मुख्यमंत्री जी ने सभी से आशीर्वाद लेकर गोरक्षपीठ से विदा ली।

श्रद्धांजलि सभा में उपस्थित महाराणा प्रताप शिक्षा के अध्यक्ष एवं पूर्व कुलपति प्रोफेसर यू पी सिंह, जगद्गुरु रामानुजाचार्य, स्वामी राघवाचार्य, महंत राजनाथ जगतगुरु स्वामी राम दिनेश आचार्य, पीर गणेश नाथ, जनार्दन सिंह, ब्रह्मचारी दास लाल, महंत शांतिनाथ, योगी कमलनाथ, महंत रवींद्रदास, महंत प्रेमदास, महेंद्र सिंह नारायण दास, महंत परमात्मा दास, महंत राम मिलन दास, नेमी सारण से पधारे स्वामी विद्या चेतन जी महाराज आदि उपस्थित रहे।