सरस जनवाद

नमाज शुरू होने से 15 मिनट पहले मस्जिदों के दरवाजे खोले जाएंगे

Share

आज ईद-उल-अजहा (बकरीद) है। मुस्लिम धर्म को मानने वाले लोगों के लिए आज का दीन का बड़ा पर्व है। बता दें कि यह रजमान खत्म होने के 70 दिन बाद मनाया जाता है। ईद-उल-अजहा को बकरीद भी कहते है। बकरीद के दिन मुस्लिम समुदाय के लोग नमाज अदा करते हैं। बकरीद या ईद-उल-अजहा का पर्व भारत के अलावा यूएई समेत अन्य कई देशों में भी मनाया जाता है। बता दें कि यूएई में नमाज शुरू होने से 15 मिनट पहले मस्जिदों के दरवाजे खोले जाएंगे।यूएई में बकरीद नमाज की टाइमिंग-अबू धाबी- सुबह 06 बजकर 02 मिनट पर।अल ऐन- सुबह 05 बजकर 56 मिनट पर।मदीनत जायद- सुबह 06 बजकर 07 मिनट पर।दुबई- सुबह 5.57 बजे।शारजाह- सुबह 5.56 बजे।अजमान- सुबह 5.56 बजे।• नमाज के बाद के उपदेश की अधिकतम अवधि 15 मिनट तक सीमित है।• नमाज शुरू होने से 15 मिनट पहले ही मस्जिदों या दरगाह के दरवाजे खोले जाएंगे।• नमाज के तुरंत बाद मस्जिदों के दरवाजों को बंद कर दिया जाएगा।• नमाज पढ़ने के लिए घर से चटाई लाना अनिवार्य होगा। इसके साथ ही सोशल डिस्टैंसिंग का सख्ती से पालन करना होगा।• कोरोना पॉजिटिव या उनसे संपर्क में आने वाले लोगों को मस्जिद में एंट्री बैन रहेगी।• 12 साल से कम और 60 साल से ज्यादा वर्ष के लोग घर में नमाज अदा करेंगे।• नमाज के बाद गले मिलने या हाथ मिलाने की परंपरा पर रोक लगाई गई है।• नजाम पढ़ने से पहले और बाद में भीड़ एकत्रित होने की इजाजत नहीं है।